भोपाल। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा के निर्वाचन क्षेत्र दतिया की पुलिस इन दिनों काफी सुर्खियों में है। 1 दिन पहले दतिया कोतवाली के टीआई बॉलीवुड स्टाइल में ग्वालियर से एक लड़के को अवैध रूप से उठा लाने और झूठी FIR दर्ज करने के मामले में सस्पेंड किए गए थे आज सेवड़ा टीआई शिशिर दास का मामला सुर्खियों में आ गया। राजस्व विभाग की महिला अधिकारी एवं नायब तहसीलदार ने लिखित शिकायत की है कि टीआई उनके घर में घुस आए और उन्हें थप्पड़ मारा।

 

घटना का विवरण

मध्य प्रदेश के राजस्व विभाग की महिला अधिकारी के अनुसार रविवार शाम को दतिया जिले के सेवढ़ा टीआई शिाशिर दास सीहोर आए और यहां पदस्थ नायब तहसीलदार के घर में जबरन घुस गए। टीआई ने नायब तहसीलदार से अभद्रता की और जान से मारने की धमकी भी दी। नायब तहसीलदार ने जो दतिया एसपी को शिकायत की है, उसमें टीआई द्वारा थप्पड़ मारने की बात भी कही गई है। देर रात सीहोर एसपी को दतिया एसपी ने इस पूरे मामले की सूचना दी। जिसके बाद सीहोर पुलिस सक्रिय हुई और नायब तहसीलदार के घर पहुंची लेकिन तब तक दतिया टीआई वहां से जा चुके थे। हालांकि टीआई के खिलाफ मामला दर्ज नहीं हुआ है। दो माह पहले भी नायब तहसीलदार ने दतिया एसपी से टीआई की शिकायत की थी पर कार्रवाई नहीं हुई थी।

रेत के अवैध कारोबार के आरोप में सस्पेंड हुए थे
शिशिर दास पूर्व में सीहोर जिले में पदस्थ रह चुके हैं। वे जिला मुख्यालय के मंडी थाने में पदस्थ रहे थे। इसके बाद नसरुल्लागंज थाने में भी टीआई के तौर पर पदस्थ रहे हैं। यहां रेत के अवैध कारोबार में शामिल होने की खबरों के बाद उन्हें निलंबित किया गया था।

सीहोर में नायब तहसीलदार के घर पुलिस बल तैनात
बताया जाता है कि पीड़ित नायब तहसीलदार ने एफआईआर दर्ज करवाने के लिए एक दिन का टाइम मांगा है। हालांकि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए नायब तहसीलदार के घर पुलिस बल तैनात किया गया है। 

दतिया एसपी ने शिकायत पर कार्रवाई क्यों नहीं की
इस पूरे मामले में दतिया पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। क्योंकि महिला नायब तहसीलदार ने टीआई शिशिर दास के खिलाफ दो महीने पहले भी दतिया एसपी को शिकायत की थी। दतिया पुलिस ने राजस्व अधिकारी की शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया। दो महीने बाद भी अब तक उस शिकायत पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं की है। यही वजह है कि टीआई के हौंसले बुलंद हुए और घर में घुसकर नायब तहसीलदार से अभद्रता की और जान से मारने की धमकी दी।

एफआईआर के लिए मांगा एक दिन का समय
सीहोर के एडि. एसपी समीर यादव ने बताया कि देर रात दतिया एसपी से शिकायती आवेदन सीहोर पुलिस को मिला है। सूचना के बाद पुलिस नायब तहसीलदार के घर पहुंची, लेकिन तब तक टीआई वहां से जा चुका था। मामले में टीआई के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए महिला डीएसपी को नायब तहसीलदार के बयान लेने भेजा गया था, लेकिन उन्होंने एफआईआर दर्ज करवाने के लिए एक दिन का समय मांगा है।